ज़रूरत कमी

आँसुओं की बूँदे हैं या आँखो की नमी है,
यह कैसा मोड़ है ज़िंदगी का,
उसी की ज़रूरत है और उसी की कमी है।

rsz_whatsapp

heart touching hindi shayari
Facebook Comments
Like
Like Love Haha Wow Sad Angry
1
Share with friends

You may also like...

Great. Thanks

Top Categories
Now enjoy our special red WhatsApp button
More in Hindi, Sad Shayari, Shayari From Heart
वफा का सिला

Close